OLD AGE SOLUTIONS

Portal on Technology Initiative for Disabled and Elderly
An Initiative of Ministry of Science & Technology (Govt. of India)
Brought to you by All India Institute of Medical Sciences

प्रस्तावना

व्यावसायिक चिकित्सा

स्व देखभाल

सचलता तथा परिवहन

घरेलू कार्य

संरक्षा/सुरक्षा

वृद्ध व्यक्तियों के लिए सहायक उपस्कर

कोई भी व्यक्ति ऐसा नहीं है जिसे कठिनाईयों और दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ता है और विशेषरुप से जब कठिनाई रोग के रुप में हो। चाहे यह नजर कमजोर होने के रुप में हो अथवा सुनने में दिक्कत हो जाए, ऐसी प्रत्येक बाधा अपने आप में एक चुनौती होती है। ऐसा आयु अधिक होने पर अधिक होता है। जैसे कि हम अपना जन्मदिवस हर वर्ष मनाते हैं, और हमारी आयु बढ़ती जाती है तथा अपने जीवन की पहेली में किसी न किसी रुप में प्रत्येक बीतते वर्ष में जीवन्तता शामिल करने में असमर्थ रह जाते हैं! इस बात में कोई संदेह नहीं है कि आयु के बढ़ने के साथ साथ अनुभव तथा परिपक्वता में भी वृद्धि होती है- लेकिन यह भी सच है कि अधिकांश वृद्ध व्यक्ति अपना आत्म विश्वास तथा आंतरिक प्रेरणा गंवा बैठते हैं जिसके सहारे वह अभी तक जीवन के सभी उतार चढ़ावों को लांघते चले आए थे। शारीरिक समस्याओं की देखरेख के अतिरिक्त बोझ के साथ, कुछ वयोवृद्ध व्यक्तियों के लिए इस स्थिति का सामना करना कठिन हो जाता है। जीवन के इस मोड़ पर उनका जीवन उनके साथ एक कड़वी सच्चाई के बिना और कुछ नहीं रह जाता है। इसलिए, यह एक अनिवार्यता बन जाता है कि उनमें आशा की एक किरण जगाई जाए ताकि वह अपने आप को फिर से खोज सकें और अपने भीतर समाई असीम उर्जा को फिर से प्राप्त कर सकें। जीवन के इस पड़ाव पर सहायक उपस्कर वरदान साबित होते हैं।

www.oldagesolutions.org पर उपलब्ध तथा संकलित सहायक उपस्करों के साथ, समस्त बाधाओं से दूर एक सहज जीवन यापन वास्तविकता बन जाता है। अधिकांश उपस्करों को वृद्ध व्यक्तियों की सुविधा तथा संभवत उनके द्वारा अपने जीवन में सामना की जा सकने वाली कठिनाईयों को ध्यान में रख कर तैयार किया गया है। इन उपस्करों में निम्नलिखित शामिल हैं-

  • एडाप्टिव स्विच- आवाज द्वारा सक्रिय होने वाले इस प्रकार के स्विच एयर कन्डीशनर्स, कम्प्यूटर्स, विद्युत चालित व्हीलचेयर्स तथा आन्सरिंग मशीनों जैसे विद्युतीय उपकरणों जिनको चलाने के लिए हाथों की आवश्यकता पड़ती है, को प्रचालित करने में बहुत अधिक उपयोगी साबित होते हैं।
  • संचार उपकरण- जैसे टेलीफोन एम्प्लीफायर्स जिनसे तेजी से संदेश भेजे तथा प्राप्त करने में सहायता प्राप्त होती है। न केवल अकेलेपन का सामना करने में संचार उपकरण उपयोगी साबित होते हैं बल्कि यह आपात स्थिति में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।
  • घर संबंधी सुधार-आमतौर पर एक बार मकान बना लिए जाने के बाद इसमें परिवर्तन करने इतना सरल नहीं लगता है क्योंकि बहुत सी चीजों को इधर-उधर करना पड़ता है। वास्तविकता में, ऐसा नहीं होता है। घर को सामान्यतः नया रुप देने तथा उसका पुनर्गठन करना विशेष रुप से प्रवेश, निकासी, शौचालय तथा पार्क आदि के संबंध में ऐसा करने से इसे और अधिक सुरक्षित, स्वास्थ्यकर तथा अनुकूल बनाया जा सकता है।
  • सचलता सहायक उपस्कर- ऐसा नहीं है कि उम्र के साथ साथ सचलता में कमी आती है- बल्कि यह इसे सीमित कर देती है। तथा सचलता सहायक उपस्करों की मदद से वृद्ध व्यक्ति बिना किसी सहायता के इधर उधर आसानी से आ जा सकते हैं। विद्युत चालित व्हीलचेयर्स, व्हीलचेयर लिफ्ट अथवा सीढ़ियां, एलिवेटर्स इस श्रेणी में आते हैं।
  • रोगोपचार तथा संवर्धन- दुर्घटनाओं, चोटों तथा बीमारी से उबरने के लिए आमतौर पर बहुत अधिक सहायता की आवश्यकता पड़ती है। लेकिन रोगोपचारों तथा संवर्धनों की सहायता से, बिना किसी की सहायता से एक स्वास्थ्यप्रद जीवनशैली को अपनाया जा सकता है। जितना आप स्वयं को जानते हैं कोई अन्य व्यक्ति उतना आप को नहीं जान सकता है इसलिए स्व देखभाल ही बेहतर देखभाल होती है!
  • उपरोक्त के अलावा, ऐसे उपस्कर जिनसे घर के काम काज, संरक्षा तथा सुरक्षा, फुरसत में किए जाने वाले कार्यकलाप, ड्रेसिंग तथा औषधि प्रबन्धन में सहायता मिलती है, वह भी बहुत अधिक उपयोगी साबित होते हैं। न केवल इनमें नवीनतम तकनालोजियों का प्रयोग किया जाता है बल्कि सुविधा जैसे अनिवार्य लक्षण जिनके लिए इनको तैयार किया जाता है, का भी इनमें ध्यान रखा जाता है।

सहायक उपस्कर वृद्ध व्यक्तियों के कार्यसाधक स्तरों में वृद्धि करने का एक माध्यम होते हैं- ताकि वह जहां भी हों उन्हे घर जैसा अहसास प्राप्त होता रहे। उनका लक्ष्य सहायता करना है न कि बने रहना। वरिष्ठ नागरिकों, वृद्धों, हाथों तथा सचलता से अशक्त व्यक्तियों के लिए सहायक उपस्करों के लिए www.SeniorSSuperStoreS.com को देखें।

कुछ भी कहा जाए लेकिन जिंदगी चलती रहती है और दृढ़ता से बनी रहती है - न कि रोग अथवा उपस्कर !

  Copyright 2015-AIIMS. All Rights reserved Visitor No. - Website Hit Counter Powered by VMC Management Consulting Pvt. Ltd.